राखी तो बहन भाई के रिश्तो की निशानी है

Posted on
  • by
  • Shah Nawaz
  • in
  • Labels:

  • राखी तो बहन-भाई के रिश्तो की निशानी है
    फूलों सी महकती हुई प्यारी सी कहानी है

    भाई-बहन का प्यार है, कुदरत की एक नज़्म
    धारा सी अविकल है, यह गीतों सी रवानी है

    ताउम्र यूँ चलता रहे यह प्यार जहाँ में
    इंसान की मुराद यह भगवान ने मानी है

    भाई-बहन के प्यार से बंध जाता है संसार
    रहमान की बख्शी हुई नेमत यह रूहानी है  

    - शाहनवाज़ सिद्दीकी




    Keywords: Rakhi, Rakshabandhan, Festival, रक्षा बंधन, रक्षा-बंधन, रक्षाबंधन, राखी

    22 comments:

    1. राखी पर बहुत सुंदर कविता लिखी आपने। बधाई।


      http://sudhirraghav.blogspot.com/

      अब तो हाथ बढ़ाओ साथी लो बांध प्रेम का धागा,
      दुनिया नतमस्कत होगी, जब लहू हिन्दुस्तानी जागा।

      ReplyDelete
    2. बहुत सुन्दर और पवित्र रचना ...शुभकामनायें

      ReplyDelete
    3. बहुत सुन्दर रचना...
      रक्षाबंधन पर पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाये.....

      ReplyDelete
    4. बेहतरीन रचना पर्व विशेष पर.

      रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ.

      ReplyDelete
    5. रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ.
      हिन्दी ही ऐसी भाषा है जिसमें हमारे देश की सभी भाषाओं का समन्वय है।

      ReplyDelete
    6. बहुत अच्छी प्रस्तुति।
      रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ.

      ReplyDelete

    7. अच्छी रचना है।

      श्रावणी पर्व की शुभकामनाएं एवं हार्दिक बधाई

      लांस नायक वेदराम!---(कहानी)

      ReplyDelete
    8. बहुत बढ़िया कविता... रक्षाबंधन पर हार्दिक शुभकामनाये और बधाई....

      ReplyDelete
    9. राखी पर बहुत सुंदर कविता लिखी आपने। बधाई।

      ReplyDelete
    10. बहुत सुन्दर रचना...
      रक्षाबंधन पर पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाये.....

      ReplyDelete
    11. अच्छी ग़ज़ल लिखी है आपने शाह नवाज़ जी.

      आपका दोस्त
      शहरयार

      ReplyDelete
    12. सभी भाइयों और बहनों को रक्षाबंधन की बहुत-बहुत बधाई!

      आपका दोस्त
      शहरयार

      ReplyDelete
    13. बहुत ही सुन्दर रचना।

      ReplyDelete
    14. क़यामत तक ताउम्र ही चलता रहे यह प्यार
      इंसान की मुराद यह भगवान् ने मानी है


      बहुत उम्दा प्रस्तुति

      ReplyDelete
    15. रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ.

      ReplyDelete
    16. राखी पर बहुत सुंदर कविता लिखी आपने। बधाई।

      ReplyDelete
    17. बहुत सुन्दर रचना. बधाई.

      ReplyDelete
    18. BAHUT BADIYA RACHNA HAI RAKHI TO BHAI BAHIN KI JAJBAT E NISHANI HAI

      ReplyDelete
    19. a very gud and sweet composition...
      happy rakhee

      ReplyDelete
    20. बहन भाई का यह प्यार अमर रहे ...
      शुभकामनायें आपको !

      ReplyDelete
    21. मंगलवार 20/08/2013 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं ....
      आपके सुझावों का स्वागत है ....
      धन्यवाद !!

      ReplyDelete

     
    Copyright (c) 2010. प्रेमरस All Rights Reserved.